एटा: सुरक्षा व्यवस्था के साथ शुरू हुआ बोर्ड परीक्षा की कापियों का मूल्यांकन

295
हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की बोर्ड परीक्षा का मूल्यांकन केन्द्र पर कापियां जांचते हुए परीक्षक।

एटा। कोरोना वायरस (कोविड-19) की महामारी के चलते जनपद में निकले 11 पाॅजिटिव मामलों को लेकर ऑरेंज जोन होने के कारण एटा में मंगलवार से हाईस्कूल और इंटर मीडिएट की बोर्ड परीक्षाओं की कापिओं का मूल्यांकन कड़ी सुरक्षा-व्यवस्था के साथ शुरू किया गया है।

सीओ सिटी राजकुमार सिंह ने मूल्यांकन केंद्रों का निरीक्षण किया और मूल्यांकन केन्द्रों पर पुलिस फोर्स तैनात कर दिया गया है। तैनात पुलिस कर्मियों को निर्देशित करते हुए कहा है कि कोई भी अंजान व्यक्ति मूल्यांकन केन्द्र के अंदर प्रवेश न करे। हॉटस्पॉट के परीक्षकों को नहीं आने दिया जाए। मूल्यांकन को लेकर शासन ने गाइडलाइन जारी करते हुए कहा है कि पूरे जनपद में 5 परीक्षा केन्द्रों को मूल्यांकन केन्द्र बनाया गया है।

जिनमें जीआईसी व गांधी स्मारक इंटर कॉलेज में इंटरमीडिएट तथा अविनाशी सहाय आर्य इंटर कॉलेज, क्रिश्चियन इंटर कॉलेज तथा जीजीआईसी एटा में हाईस्कूल की कॉपियां जांची जा रही है। मूल्यांकन कार्य के लिए जनपद में 2200 परीक्षक लगाये गए हैं। पहले दिन मूल्यांकन केंद्रों पर परीक्षकों की न के बराबर संख्या दिखाई दी। डीआईओएस एटा मिथलेश कुमार ने मूल्यांकन केंद्रों का निरीक्षण किया। परीक्षकों की कम संख्या पर डीआईओएस ने नाराजगी व्यक्त की। केंद्र प्रभारी को सभी परीक्षकों को बुलाने के आदेश दिए गए हैं।

डीआईओएस ने कहा कि कोविड-19 की गाईडलाइन के निर्देशों को पालन करें। कोरोना संक्रमण के दृष्टिगत कहीं भी कोई लापरवाही न बरती जाए, सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क और सनेटाइज का पूरा ध्यान रखा जाएगा, हर परीक्षक के मोबाइल में आरोग्य सेतु एप इंस्टाल होना बहुत जरूरी बताया गया। मूल्यांकन के दौरान मोबाइल न रखने को कहा गया है। प्रदेश सरकार ने जल्द से जल्द मूल्याकंन कार्य को समाप्त करने के निर्देश जारी किये गए हैं।