एटा: सहाब शहर में होता शवों पर समझौता

एटा में एक के बाद एक महिलाओं की मौत, नींद में जिम्मेदार शिवाय हॉस्पीटल पर उपचार के दौरान प्रसूता की मौत, परिजनों में आक्रोश बबलू चक्रबर्ती

Must Read

Etah Live Team
ये खबर एटा लाइव की टीम के द्वारा एकत्रित की गई है और डेस्क पर संपादित की गई है। एटा लाइव टीम खबरें एकत्रित करनें के लिये अपने प्रतिनिधियों, सोशल मीडिया और अन्य न्यूज पोर्टल्स की मदद लेती है।

एटा। सहाब शहर के प्राइवेट क्लीनिकों पर होता हैं शवों पर समझौता, जनपद में कानून नाम की चीज हैं भी कि नहीं या सब राम भरोसे चल रहा हैं | क्योंकि जनपद तो दूर एक मात्र शहर में ही अनभिज्ञ डाक्टरों द्वारा लोगों की जिन्दगी से खुलेआम खिलवाड़ किया जा रहा हैं और जिम्मेदारों की अनदेखी के चलते शवों पर समझौता करके मामलों पर पर्दा डाल दिया जाता हैं | आखिर यह कब तक चलेगा ?
बतादें कि जब से जनपद में नवागत मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने चार्ज सम्हाला हैं | तब से प्रसुताओं की मौतों का सिलसिला बड़ता ही चला जा रहा हैं | लोग एक घटना को भुला नहीं पाते कि दूसरी घटना सामने आ जाती हैं | बाबजूद स्वास्थ विभाग के मुखिया इस ओर सकारात्मक कदम नहीं उठा पा रहे | कारण भले जो हों लेकिन असलियत सबके सामने हैं | क्योंकि ताजा घटनाओं की ही बात करें तो बीते चंद दिनों पहले ही शिकोहाबाद रोड और आगरा रोड स्थित प्राइवेट हॉस्पीटलों पर हुई मौतों के मामलों को लोग भूल भी नहीं पाये कि डाक्टरों की लाहपरवाई से एक और महिला की मौत हो गयी । इस सम्बंध में मृतका के पति सुनील कुमार ने बताया कि वह थाना रिजोर के गाँव सेनाकलां का निवासी है और वह अपनी पत्नी मीरा को प्रसव हेतु अलीगंज रोड स्थित शिवाय हास्पीटल लाया था । पीड़ित का आरोप है कि डाक्टर ने चंद रुपयों के लालच में पहले तो आपरेशन कर दिया लेकिन प्रसब के कुछ समय बाद महिला की हालत बिगडने पर मौत हो गई तो शातिर डाक्टरों ने मौत के बाद भी गुमराह करके रैफर करने के आम पर एम्बुलेंस में शव रख कर आगरा की ओर चल पड़े लेकिन जैसे ही परिजनों को महिला की मौत का आभास हुआ एम्बुलेंस स्टाफकर्मी उपचार सम्बन्धी सारे कागज लेकर शव को रास्ते में ही उतार कर भाग गये । यह देख हेरान परेशान शोकाकुल परिजन टेक्टर में शव लेकर एटा पहुचे जहाँ उन्होंने मीडिया के समक्ष शिवाय हास्पीटल के डाक्टरों पर धोखाधड़ी और उपचार में लाहपरबाई का आरोप लगाया हैं | हालांकि परिजन शव को जेसे ही मोर्चरी पर लाये डाक्टरों के गुर्गे सक्रिय हो गये | सूत्र बताते हैं कि अंत में मामले का समझौता हो गया | लेकिन सबाल यह हैं कि आखिर कब तक जिम्मेदार अधिकारियों की अनदेखी के चलते शवों पर समझोते होते रहेंगे ?

 

- Advertisement -
- Advertisement -

इस व्यक्ति की सूचना देने पर 20 हजार रूपये का इनाम घोषित, नाम गुप्त रखा जाऐगा

मथुरा। मथुरा के ग्राम फोडर का निवासी श्यामवीर सिंह कुंतल पर 20 हजार रूपये का इनाम घोषित किया गया...

एटाः सरकारी अधिकारियों पर भड़के बीजेपी विधायक, कहा योजनाऐं सिर्फ कागज पर चल रही हैं।

एटा। मंगलवार को अलीगंज क्षेत्र पंचायत की बैठक में क्षेत्रीय विधायक सत्यपाल सिंह राठौर ने नौकरशाहों को जमकर लताड़ा। साफ कहा कि अधिकारी-कर्मचारी योजनाओं...

एटाः रेलवे में सरकारी नौकरी लगवाने का झांसा देकर 10 लाख ठगे

एटा। अलीगंज क्षेत्र के एक व्यक्ति के पुत्र की रेलवे में सरकारी नौकरी लगवाने का झांसा देकर फर्रुखाबाद के तीन लोगों द्वारा 10 लाख...

एटाः उधारी के 20000 रूपये वापस मांगने गया तो की गला घोंटकर हत्या, पुलिस ने नही लिखी एफआईआर

एटा। रिजोर थाना क्षेत्र के ग्राम फफोतू में रहने वाले एक युवक ने गांव के ही रहने वाले व्यक्ति को उधार दिए अपने 20...

एटा: सहाब शहर में होता शवों पर समझौता

एटा। सहाब शहर के प्राइवेट क्लीनिकों पर होता हैं शवों पर समझौता, जनपद में कानून नाम की चीज हैं भी कि नहीं या सब...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -